Primary ka Master : साल भर से अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण की राह देख रहे परिषदीय शिक्षकों को मिली मायूसी, 15% से अधिक रिक्तियों वाले जिलों के आवेदकों को मायूसी

Primary ka Master : साल भर से अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण की राह देख रहे परिषदीय शिक्षकों को मिली मायूसी, 15% से अधिक रिक्तियों वाले जिलों के आवेदकों को मायूसी


लखनऊ/ इलाहाबाद : शास्त्री भवन में ऑनलाइन अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण प्रणाली शुरू करने के बाद मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि शिक्षकों के स्थानान्तरण की कार्रवाई हर हाल में 30 जून तक पूरी कर ली जाए। इसके बाद कोई भी ट्रांसफर-पोस्टिंग नहीं होनी चाहिए।

यहां के आवेदक निराश : एक साल इंतजार के बाद भी आधे से अधिक आवेदकों के हाथ मायूसी लगी है। 37,396 शिक्षकों ने ऑनलाइन आवेदन किया गया था, जिसमें जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों के सत्यापन के बाद 31,513 आवेदन पत्र सही पाए गए। तबादले के लिए प्राथमिक विद्यालयों में सहायक शिक्षकों के 40,766 और हेड मास्टर के 6,719 पद उपलब्ध थे। हालांकि, इसके सापेक्ष प्राथमिक विद्यालयों के 8,918 और उच्च प्राथमिक विद्यालयों के 3,045 शिक्षकों के ही तबादले किए गए हैं। जिन जिलों में 15% से अधिक शिक्षकों के पद खाली हैं, वहां तबादले नहीं किए गए हैं। प्राथमिक विद्यालयों ऐसे जिले भदोही, प्रतापगढ़, कानपुर नगर, इटावा और सुल्तानपुर हैं। वहीं, चन्दौली, मुजफ्फरनगर, सम्भल, रायबरेली, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, औरैया, सीतापुर, पीलीभीत, हरदोई, कुशीनगर, बदायूं, श्रावस्ती, कासगंज, गोण्डा, बहराइच, बलरामपुर, सोनभद्र, शाहजहांपुर एवं लखीमपुर खीरी में उच्च प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों के दूसरे जिलों में तबादले के आवेदन स्वीकार नहीं किए गए हैं।

इसके साथ ही केंद्र सरकार की एस्पिरेशनल जिलों की सूची में शामिल सिद्धार्थनगर, श्रावस्ती, बहराइच, सोनभद्र, चन्दौली, फतेहपुर, चित्रकूट और बलरामपुर से भी किसी शिक्षक का दूसरे जिले में तबादला नहीं हुआ है।

तबादला आदेश बेसिक शिक्षा परिषद की वेबसाइट upbasiceduparishad.gov.in पर आवेदक अपना पैन एवं बैंक अकाउंट नंबर डालकर देख सकते हैं। फर्जीवाड़ा रोकने के लिए ऑनलाइन बारकोड युक्त आदेश की प्रति तैयार की गई है। इसे डाउनलोड कर इसके आधार पर ही जॉइनिंग की जा सकेगी।