अन्तर्जनपदीय ट्रांसफर से आये बेसिक शिक्षकों की काउंसिलिंग से जुड़ी ताजाखबरें,अंतर्जनपदीय में आए शिक्षकों की काउंसिलिंग निरस्त, सूची में मिलीं कई खामियां : बाराबंकी - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad up
  • primary ka master basic shiksha news :

    सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा 2019 आवेदन करें

    69000 सहायक अध्यापक भर्ती 2019 हेतु ऑनलाइन आवेदन करने हेतु क्लिक करें ।

    Tuesday, 10 July 2018

    अन्तर्जनपदीय ट्रांसफर से आये बेसिक शिक्षकों की काउंसिलिंग से जुड़ी ताजाखबरें,अंतर्जनपदीय में आए शिक्षकों की काउंसिलिंग निरस्त, सूची में मिलीं कई खामियां : बाराबंकी

    अन्तर्जनपदीय ट्रांसफर से आये बेसिक शिक्षकों की काउंसिलिंग से जुड़ी ताजाखबरें,अंतर्जनपदीय में आए शिक्षकों की काउंसिलिंग निरस्त, सूची में मिलीं कई खामियां : बाराबंकी

    बाराबंकी : गैर जिलों से तबादला होकर आए शिक्षकों के विद्यालय आवंटन के लिए आयोजित की गई काउंसिलिंग फिलहाल टाल दी गई जिससे एक बार फिर मानक विहीन तैनाती के लिए बुने जा रहे जाल की कवायद पर असर पड़ा है। तैनाती को लेकर विभाग की तरफ किए जाने वाले खेले को लेकर दैनिक जागरण ने सूची में खामी को सोमवार के अंक में प्रकाशित किया था। जिस पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने अग्रिम आदेश तक काउंसिलिंग की प्रक्रिया को निरस्त कर दिया है। ऐन कुछ घंटे पहले काउंसिलिंग टाल दिए जाने के फरमान से जहां गैर जिला के शिक्षकों और महिला शिक्षकों के अभिभावकों को भारी परेशानी उठानी पड़ी। 1गैरजनपद से आए 180 शिक्षकों को स्कूल आवंटन से पहले काउंसिलिंग सोमवार को होनी थी। काउंसिलिंग के दौरान पांच से अधिक दिव्यांग शिक्षक पहुंच गए, जिसको लेकर विभाग में हड़कंप मच गया, क्योंकि नियमानुसार सबसे पहल दिव्यांग और महिलाओं की काउंसिलिंग होनी है। जबकि सूची में एक शिक्षक को ही दिव्यांग दिखाया गया था। 1इस पूरे मामले को लेकर दैनिक जागरण ने सोमवार के अंक में ‘मानक विहीन तैनाती के लिए बुना जा रहा जाल’ शीर्षक से प्रकाशित किया था। जब विभाग के अफसरों की अनियमितता सामने आ गई तो आनन-फानन शिक्षकों की काउंसिलिंग को निरस्त कर दिया गया। बड़ेल में सुबह से ही काउंसिलिंग के लिए शिक्षकों की भीड़ लगी हुई थी। शिक्षकों की उपस्थिति दर्ज कर ली गई थी, लेकिन जब नवागत जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी विनय कुमार सिंह ने काउंसिलिंग को टाल दिया। अब कमेटी बैठक के बाद ही तय होगा कि काउंसिलिंग कब होगी। बीएसए ने बताया कि दिव्यांग की काउंसिलिंग पहले होती है, इसलिए सूची सही नहीं बनी थी, कार्यक्रम को निरस्त कर दिया गया है। 1मनचाहा विद्यालय पाने की होड़ : गैर जनपद से तबादला होकर आए शिक्षक नजदीकी विद्यालयों में पो¨स्टग कराने के लिए जोड़-तोड़ शुरू कर दिया है। सोमवार को इसको लेकर शिक्षक बेसिक शिक्षा कार्यालय के पास जमा मिले। कोई मिलना चाह रहा था कोई किसी से जुगाड़ लगा रहा था। 1स्कूल आवंटन के खेल में एकल रह गए स्कूल : तत्कालीन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बंकी, देवा के स्कूलों में मानक विहीन शिक्षक तैनात कर दिए थे, जिससे जिले में करीब 200 से अधिक परिषदीय विद्यालय एक शिक्षक के सहारे चल रहे हैं। मसौली, निंदूरा, देवा, हरख और लखनऊ के पास के स्कूल त्रिवेदीगंज में तबादला कराने के लिए होड़ लगी रहती है। पिछले स्कूल आवंटन में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने खूब नियमों का उल्लंघन किया और 30 बच्चों पर आठ-आठ अध्यापक तैनात कर दिए। बंकी में सभी स्कूलों में मानक विहीन शिक्षक तैनात है।