इलाहाबाद : 68500 शिक्षक भर्ती परीक्षा की कॉपी पर अंक हैं भरपूर 12 अभ्यर्थी चयन से दूर, Pnp सचिव ने 45 अभ्यर्थियों की सूची की सार्वजनिक - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad
  • basic shiksha news updatemarts :

    Saturday, 27 October 2018

    इलाहाबाद : 68500 शिक्षक भर्ती परीक्षा की कॉपी पर अंक हैं भरपूर 12 अभ्यर्थी चयन से दूर, Pnp सचिव ने 45 अभ्यर्थियों की सूची की सार्वजनिक

    68500 शिक्षक भर्ती परीक्षा की कॉपी पर अंक हैं भरपूर 12 अभ्यर्थी चयन से दूर, Pnp सचिव ने 45 अभ्यर्थियों की सूची की सार्वजनिक


    प्रयागराज : परिषदीय स्कूलों की 68500 सहायक अध्यापक भर्ती के परिणाम का विवाद खत्म ही नहीं हो रहा है। उच्च स्तरीय जांच समिति की रिपोर्ट में कॉपी पर अच्छे अंक पाने वाले 51 अभ्यर्थियों में से 45 को नियुक्त करने के लिए सूची बेसिक शिक्षा परिषद सचिव को जा चुकी है।
    अब 12 ऐसे अभ्यर्थी सामने आए हैं, जिन्हें स्कैन कॉपी में उत्तीर्ण प्रतिशत से अधिक अंक मिले हैं लेकिन, वह नियुक्ति की सूची में स्थान नहीं बना सके हैं। इन अभ्यर्थियों ने पुनमरूल्यांकन के लिए आवेदन नहीं किया है। शासन ने समिति की रिपोर्ट में कॉपी पर उत्तीर्ण 51 अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने का निर्देश दिया था, उनमें से 45 की लिस्ट परिषद भेजी जा चुकी है। 1वहीं, परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव की सूची शुक्रवार को सार्वजनिक हुई। इसमें 12 उन अभ्यर्थियों के नाम नहीं हैं, जिन्होंने स्कैन कॉपी पर उत्तीर्ण प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किए हैं। यह अभ्यर्थी नियुक्ति पाने के लिए कार्यालय पहुंचे और चयनित सूची में अपना नाम न होने पर आपत्ति जताई है।
    जांच रिपोर्ट पर भी सवाल
    उच्च स्तरीय जांच समिति की रिपोर्ट भी इन अभ्यर्थियों के नाम सामने आने से सवालों के घेरे में हैं, क्योंकि उसे महज 51 अभ्यर्थी ही मिले, जबकि स्कैन कॉपी के हिसाब से सफल अभ्यर्थियों की संख्या और अधिक है। आखिर इन नामों को समिति ने शामिल क्यों नहीं किया?
    दूसरे रिजल्ट में सभी का निस्तारण
    परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी का कहना है कि पिछले दिनों जिन अभ्यर्थियों की सूची परिषद को भेजी है, वह शासनादेश के अनुरूप है। बाकी सभी प्रकरणों का निस्तारण दूसरे रिजल्ट में होगा। कॉपियों का पुनमरूल्यांकन टीईटी के रिजल्ट बाद दिसंबर माह में कराया जाएगा।

    चार तरह के प्रकरण लिए जा रहे
    पुनमरूल्यांकन में ऑनलाइन आवेदन करने वाले 30751 अभ्यर्थी तो रहेंगे ही। साथ ही समिति की ओर से सुझाए गए 343 प्रकरण भी होंगे। रिजल्ट में पास और कॉपी पर फेल 53 अभ्यर्थी और हाइकोर्ट में रिजल्ट को चुनौती देने वाले सभी याची जो शपथपत्र के साथ आवेदन करेंगे के प्रकरण देखे जाएंगे। सचिव ने कहा कि कॉपी पर उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने भले ही पुनमरूल्यांकन के लिए आवेदन नहीं किया लेकिन, उनका संज्ञान अगले परिणाम में लिया जाएगा।