अब प्राइमरी के टीचर बेंचेगे बोरा,योगी सरकार के फैसले के भड़के शिक्षक,बोरा आदेश के बाद सोशल मीडिया में वायरल कमेंट पढ़ें - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad
  • primary ka master basic shiksha news :

    Sunday, 4 November 2018

    अब प्राइमरी के टीचर बेंचेगे बोरा,योगी सरकार के फैसले के भड़के शिक्षक,बोरा आदेश के बाद सोशल मीडिया में वायरल कमेंट पढ़ें

    अब प्राइमरी के टीचर बेंचेगे बोरा, योगी सरकार के फैसले के भड़के शिक्षक, क्लिक कर देखें सोशल मीडिया में वायरल कमेंट

    लखनऊ। सरकारी अध्यापकों को अब बच्चों को पढ़ाने के साथ-साथ बोरा बेचकर कमाई भी करनी होगी। मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण उत्तर प्रेदश लखनऊ द्वारा जारी 2 नवंबर को जारी शासनादेश में कहा गया है कि प्राइमरी स्कूलों के टीचर मध्यान्ह भोजन के तहत आपूर्त किए जाने वाले खाद्यान्न के बोरों का समुचित उपयोग करें अौर इसे अच्छे दामों में बेचकर स्कूल की आय में बढ़ोत्तरी करें।


    प्रदेश के समस्त जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि इधर प्राइमरी स्कूल में हर महीने कम से कम से तीन चार बोरे खाली होते है। इन बोरे में मिड डे मील के लिए खाद्यान्न भेजा जाता है। अध्यापक खाद्य समाग्री खाली होने पर इन बोरों को सुरक्षिक रखें अौर खाली बोरो की गणना हर स्कूल में अलग से आय व्यय पंजिका में की जाए।

    अब प्राइमरी के टीचर बेंचेगे बोरा, योगी सरकार के फैसले के भड़के शिक्षक, क्लिक कर देखें सोशल मीडिया में वायरल कमेंट


    बोरे एकत्र हो जाने पर उसे महंगी दरो में बेचा जाए। वहीं उनसे प्राप्त आय को स्कूल के लिए कंटेनर खरीदने के काम में लाया जाए, जिसमें मिड डे मील में काम आने वाले तेल, मसाले आदि को रखा जाए।

    इस राशि से मिड डे मील की मीन्यू अौर कीचन की वॉल पेंटिग करवाई जाए। बाकि बची राशि से स्कूल की स्वच्छता अौर कीचन गार्डन की आवश्यक सामाग्री की खरीद में व्यय किया जाए।

    कुल मिलाकर बोरो से प्राप्त आय का उपयोग मिड डे मील योजना से जड़े कार्यों में ही हो। दो नवंबर को जारी इस आदेश के बाद अध्यापकों में रोष व्याप्त है।

    बोरा आदेश के बाद सोशल मीडिया पर वायरल कमेंट पढेंगे तो आप भी खिलखिला उठेंगे - 

    ◆ "बोरी तेरी चोरी,

    सरकार ने आके रोकी ??"

    कहाँ-कहाँ तू कब-कब खोया,

    लोगों ने तुम्हें लातों से धोया ,

    गिनती अब निश्चित तेरी होगा ,

    डर मत,अब मास्टर संग होगा!!


            लिखित शिकायत मास्टर देगा,

            तेरी  सुरक्षा  मास्टर   देगा,

            गर तुझको कुछ हो गया तो,

            सस्पेंशन मास्टर  का होगा।

    बोरे जी को सादर समर्पित.......😀


    ◆ प्रधान कहे मोरा,कोटेदार कहे मोरा।


    रसोइया कहे मोरा।


    मास्टर साहब बैठ के लगाए हिसाब

    कहा गओ बोरा।


    ◆ एम डी एम मे जो अाटे को छानने के बाद चोकर निकलता है.


    उसको बेचकर क्या खरीदना है???🤔🤔😀😀

    ◆ मास्साब अब बोरा गिनेंगे । बोरा गैंग होगा । बोरा गैंगवॉर होगा ।

    धन्य है बोरा एक्ट ।


    ◆ आगे चलके बोरा कटवा के पैंट भूसट व कुरता पजामा बनवा क़े विद्यालय आना जाना होगा ।


    ◆ अर्ज किया है ...

    तुम जो समझ भी ना पाओ

    वो सवाल देंगे तुम्हे ।

    तुम परेशान सा हो जाओ

    वो बवाल देंगे तुम्हें ।।

    लगा तो लोगे तुम राशन का हिसाब।

    सजा तो हम तुम्हे बोरे के हिसाब मे देंगे।।😆😆😆😆