शिक्षकों के जिम्मे पढ़ाने के अलावा दर्जनों काम, सरकारी प्राइमरी और अपर प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों की समस्याओं पर 'व्हाट्सएप संवाद - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad
  • basic shiksha news updatemarts :

    Thursday, 20 December 2018

    शिक्षकों के जिम्मे पढ़ाने के अलावा दर्जनों काम, सरकारी प्राइमरी और अपर प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों की समस्याओं पर 'व्हाट्सएप संवाद

    स्कूलों में' पढ़ाई छोड़ शिक्षकों के जिम्मे दर्जनों काम, सरकारी प्राइमरी और अपर प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों की समस्याओं पर 'व्हाट्सएप संवाद

    यह है शिक्षकों का दर्द

    - कक्षा-कक्ष के अनुसार शिक्षकों की संख्या बेहद कम है।

    - बीएलओ ड्यूटी, टीकाकरण जैसे अतिरिक्त अनावश्य कार्यों का बोझ है।

    - नैतिक पतन के कारण अच्छे शिक्षकों को उसका भुगतान करना पड़ रहा है।

    -सेवा अवधि प्रशिक्षण में खाना पूर्ति की जा रही है।

    - वेतन, प्रोन्नति, समयमान वेतन मान जैसे अपने हक पाने के लिए भी संघर्ष करना पड़ रहा है।

    - राज्य की योजनाओं को बेहतर क्रियान्वयन के वावजूद गंभीर बीमारी सहायता में कोई लाभ नहीं है।

    - 30-40 वर्ष सेवा के वावजूद पेंशन, ग्रेच्युटी ,एसीपी के लाभ से वंचित

    (बॉक्स)

    राजधानी में स्कूलों की स्थिति

    कुल स्कूल : करीब 1850

    अपर प्राइमरी : करीब 400

    शिक्षकों की संख्या : करीब 6500