artificial intelligence और yoga भी पढ़ाएगा cbse , बच्चों की देखभाल से संबंधित विषय भी होगा वैकल्पिक - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad
  • basic shiksha news updatemarts :

    Monday, 25 March 2019

    artificial intelligence और yoga भी पढ़ाएगा cbse , बच्चों की देखभाल से संबंधित विषय भी होगा वैकल्पिक

    artificial intelligence और yoga भी पढ़ाएगा cbse , बच्चों की देखभाल से संबंधित विषय भी होगा वैकल्पिक

    आगामी शिक्षा सत्र से सीबीएसई (सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजूकेशन) अपने पाठ्यक्रम में तीन नए विषयों को शामिल करने जा रहा है। ये विषय- आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस (एआइ), बच्चों की देखभाल की शिक्षा और योग होंगे। हाल ही में हुई सीबीएसई बोर्ड की बैठक में इन तीन विषयों को पाठ्यक्रम में शामिल करने का फैसला किया गया है।

    बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया- शिक्षा सत्र 2019-2020 से कक्षा नौ के छात्रों के लिए आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस वैकल्पिक विषय होगा। यह छठा विषय होगा। नई पीढ़ी की शैक्षिक आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए नए विषय को पढ़ाने का फैसला किया है। बोर्ड ने आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस के प्रति छात्रों की रुचि जगाने के लिए कक्षा आठ से ही विषय की पढ़ाई शुरू कराने का फैसला किया है। कक्षा आठ में आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस के 12 पीरियड होंगे। योग और बचपन से संबंधित विषयों को सीनियर सेकेंड्री स्तर से शामिल किया जाएगा।

    कई स्कूलों से इन विषयों को शामिल करने की मांग प्राप्त होने पर सीबीएसई बोर्ड ने यह फैसला किया है। बोर्ड के मानदंडों के मुताबिक कोई नया विषय पांच अनिवार्य विषयों के अलावा वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल किया जा सकता है। अनिवार्य विषयों में शुमार तीन विषयों- विज्ञान, गणित और सामाजिक विज्ञान में से किसी विषय में छात्र फेल होता है तो छठे विषय के अंकों को शामिल कर उसे पास घोषित किया जा सकता है। तब छह में से सर्वाधिक अंकों वाले पांच विषयों को छात्र को पास करने का आधार बनाया जाएगा। अगर छात्र या छात्र अनुत्तीर्ण विषय में दोबारा परीक्षा देना चाहेगा, तो वह ऐसा भी कर सकता है।