बेसिक शिक्षा में सुधार के लिए जिम्मेदार कौन ..? आप भी जानिए - Primary Ka Master || UPTET, Basic Shiksha News, TET, UPTET News
  • primary ka master

    PRIMARY KA MASTER- UPTET, BASIC SHIKSHA NEWS, UPTET NEWS LATEST NEWS


    Monday, 25 March 2019

    बेसिक शिक्षा में सुधार के लिए जिम्मेदार कौन ..? आप भी जानिए

    बेसिक शिक्षा में सुधार के लिए जिम्मेदार कौन ..? आप भी जानिए

    विद्यालय पर बच्चे कम नामांकित हो तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चे नामांकन कराकर विद्यालय कम आएं तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चे अपनी कक्षा के हिसाब से शैक्षिक संप्राप्ति ना दर्शाएं तो शिक्षक ज़िम्मेदार।

    बेसिक शिक्षा में सुधार के लिए जिम्मेदार कौन ..? आप भी जानिए

    बच्चे मिड डे मील का खाना खाकर बीमार हो जाएं तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    समय से हाज़री की सूचना ग्रुप में, ऐप में ना दो तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चे साफ़ सुथरे बनकर ना आएं तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चे बाल मज़दूरी करते मिलें तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चे लड़ाई झगड़ा करके चोट खा लें तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चे खेलने में भी चोटहिल हो जाएं तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चों का आधार ना बने तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चे आयरन की गोली और डी वार्मिंग की गोली ना खाएं या विभिन्न प्रकार के टीका या पोलियो ड्रॉप्स समय पर ना लें तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    विभिन्न योजनाओं की ड्यूटी को मना करने या ना करने की दशा में शिक्षक ज़िम्मेदार।
    सारी सूचनाएं समय से ना दे तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    स्कूल में साफ सफाई ना मिले तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    किताबें, जूता, मोजा, स्वेटर इत्यादि आने के दिन या अगले दिन ना बाट पाए तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    बच्चों को गुणवक्ता पूर्ण भोजन ना मिले तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    एमडीएम बंद हो जाए तो शिक्षक ज़िम्मेदार।
    परन्तु..........
    बच्चे नाम लिखवाकर अपनी दादी, नानी, बुआ, मौसी आदि के घर ही रहें अधिकतर और नाम काटने पर बच्चों को गार्जियन लड़ने आ जाएं तब कौन ज़िम्मेदार है??
    एक विद्यालय पर ५ कक्षाओं पर एक या दो ही शिक्षक हों जिससे चाहकर भी शैक्षिक संप्राप्ति प्राप्त ना हो सके तब कौन ज़िम्मेदार है??
    बच्चों को देने के लिए किताबें, ड्रेस, जूता, मोजा, स्वेटर इत्यादि समय से शिक्षक को ही प्राप्त ना हो तब कौन ज़िम्मेदार है??
    बच्चों के पास स्कूल की ड्रेस ही घर पर और कहीं भी आने जाने में पहनने के अलावा कोई ऑप्शन ही नहीं होता उसके लिए कौन ज़िम्मेदार है??
    बच्चों के घरों में दिन के खाने के अलावा दो वक़्त के खाने के बंदोबस्त के लिए बाल मज़दूरी के अलावा कोई रास्ता ना हो तो उसके लिए कौन ज़िम्मेदार है??
    आधार नामांकन के लिए फॉर्म भरकर देने के बाद भी अभिभावक फॉर्म ना जमा करें या csc वाले ही घपला कर दें तब कौन ज़िम्मेदार है।
    ??
    किताबें वक़्त से ना मिलें उसके लिए कौन ज़िम्मेदार है।
    स्कूल पर नेटवर्क की समस्या आ जाए या हमेशा ही बनी रहे तो कौन ज़िम्मेदार है।
    कन्वर्जन कॉस्ट कभी भी समय से ना मिले और बच्चों की उपस्थिति के सापेक्ष कम मिले उसके लिए कौन ज़िम्मेदार है।
    शिक्षकों को कभी भी तनख्वाह समय से ना मिले उसके लिए कौन ज़िम्मेदार है।
    मानकनुसार शिक्षक ना उपलब्ध करवाने पर कौन ज़िम्मेदार होना चाहिए??
    शिक्षक अगर पर्याप्त हैं भी तो बच्चों को अलग अलग बैठाने की व्यवस्था ना होने ( कक्ष की संखायों में कमी) पर कौन ज़िम्मेदार होना चाहिए??
    शिक्षकों को अन्य कामों में फसा कर रखने जिस कारण विद्यालय और बच्चों को पर्याप्त समय देने में अक्षम हों शिक्षक उसके लिए कौन ज़िम्मेदार होगा??
    शिक्षक इन सभी चीज़ों के बीच ताल मेल बैठाते बैठाते तनाव में रहने लगे और अपनी सेहत ख़राब कर बैठे उसके लिए किसकी ज़िम्मेदारी सुनिश्चित होनी चाहिए??
    सफाई कर्मी कभी विद्यालय ना आए तो कौन ज़िम्मेदार ठहराया जाए??
    शिक्षक का विपरीत परिस्थितियों को पार कर विद्यालय जाना और उस दौरान उसके साथ कोई अनहोनी हो जाए तो किसे ज़िम्मेदार ठहराया जाए??
    शिक्षक वर्ग सरकारी कर्मचारी होकर भी सबसे अधिक शोषित समझे ख़ुद को क्यूंकि हक़ीक़त में सबसे अधिक शोषण शिक्षक वर्ग का हो रहा है तो इस शोषण के लिए कौन ज़िम्मेदार है??
    शिक्षक चाहकर भी कई एक अच्छे कार्य जो विद्यालय और बच्चों के हित के लिए ज़रूरी हैं उन्हें पूरा ना कर पाए ( कभी धन के अभाव में या इंफ्रास्ट्रक्चर के अभाव में या फिर मैनपॉवर के अभाव में) तो शिक्षक के सोचे हुए विद्यालय हित के कार्यों के अपूर्ण रहने की दशा में कौन ज़िम्मेदार होगा।
    इस तरह और भी बहुत सी बातें हैं जिनकी ज़िम्मेदारी तय होनी चाहिए । परन्तु सवाल वही कि ज़िम्मेदार कौन????????