महिला शिक्षिका की तानाशाही से स्टाफ परेशान, हेडमास्टर के अधिकारों पर अतिक्रमण कर शिक्षकों को किया एबसेंट - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad
  • basic shiksha news updatemarts :

    Sunday, 24 March 2019

    महिला शिक्षिका की तानाशाही से स्टाफ परेशान, हेडमास्टर के अधिकारों पर अतिक्रमण कर शिक्षकों को किया एबसेंट

    महिला शिक्षिका की तानाशाही से स्टाफ परेशान, हेडमास्टर के अधिकारों पर अतिक्रमण कर शिक्षकों को किया एबसेंट


    नगरीय छेत्र अंतर्गत संचालित शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यायल दक्षिण करौंदिया सीधी में एक महिलाअध्यापक की तानाशाही जोरों पर चल रही है। विद्यालय के समीप ही घर होने के चलते अध्यापक के पद पर पदस्थ श्रीमती विमला सिंह स्टाफ पर भारी पड़ रही हैं, मध्य प्रदेश शासन की गाईड लाईन को शिथिल करते हुए श्रीमती सिंह अध्यापक होते हुए भी प्रधानाध्यपक के अधिकारों एवं कार्यक्षेत्र पर आये दिन हनन करती रहती हैं। और तो और विद्यालय में पदस्थ अन्य शिक्षको को भी अपने स्थानीय होने का रुतबा दिखाती रहती हैं। बताया गया है कि 19 मार्च को उक्त महिला शिक्षक द्वारा अपने ही विद्यालय में पदस्थ शिक्षका श्रीमती कीर्ति मिश्रा के ऊपर अपना गुस्सा दिखाते हुए उपस्थित पंजी में लाला श्याही से हस्ताक्षर को काट दिया ।


    इतना ही नहीं विमला सिंह ने कीर्ति मिश्रा को धमकाते हुए उपस्थित पंजी में दर्ज उनके नाम सामने लाल श्याही से लिख दिया कि श्रीमती कीर्ति मिश्रा को विद्यालय से निकाला जाता हैं। श्री मती विमला सिंह की कलम यही नहीं रुकी उसने कीर्ति को जहा विद्यालय से बाहर करने का लेख किया वहीं विद्यालय में ही पदस्थ एक और महिला शिक्षक के हस्ताक्षर पर लाल श्याही मार दी ।


    यही नहीं विमला सिंह ने जहां दो शिक्षको के उपस्थित रजिस्टर में लाल श्याही मार दी वहीं प्रधानाद्यापक द्वारा रजिस्टर संधारण के दौरान कुल पृष्ठ संख्या दर्ज कर अपने हस्ताक्षर कर सील लगाई थी उसे भी महिला शिक्षक द्वारा काट कर अपनी दस्तखत कर दी गई है


    बताया गया है कि विद्यालय परिसर में श्रीमती सिंह जब चाहे जिसे चॉहें नियम विरूद्व तरीके अनुपस्थित घोषित कर देती हैं, सक्षम अधिकारियों के हस्ताक्षर को भी काट कर अपने हस्ताक्षर से अपनी बात माननें पर सब को विवश करती हैं। सूत्रो की मानें तो प्रधानाध्यापक भी इस महिला शिक्षक की हरकत से काफी आहत रहते हैं।


    छात्र भी रहते हैं भयभीत…
    अध्यापक श्रीमती विमला सिंह की इस हरकत से जहां विद्यालय प्रभारी सहित स्टाफ परेशान हैं वहीं यहां अध्य्यन करने छात्र भी दहसत में है। बताया गया है कि उक्त महिला शिक्षक द्वारा अपने विद्यालयीन स्टाफ पर जहां एक तरफा हुकूमत चलाना चाहती हैं वहीं छात्रों को अकारण डॉट फटकार कर उन पर अपना दबाव बना रखी है।



    इनका कहना हैं…

    अध्यपक श्रीमती विमला सिंह के द्वारा शासकीय कार्य में वाधा डालने के साथ ही अनाधिकृत चेष्टा करने का प्रयास किया गया है जो कि पूर्णत: अनुचित कार्य है। इनके कार्यो एवं आचरण के विषय में संकुल प्राचार्य एवं अन्य वरिष्ट अधिकारियों को सूचित किया जा चुका है। अध्यापक श्रीमती विमला सिंह के विरूद्व जल्द ही ठोस कार्यवाही की जायेगी।

    ।।अभय प्रकाश गुप्ता, प्रधानाध्यपक, शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय दक्षिण करौंदिया सीधी ।