नेडा के सोलर, आरओ सिस्टम हो रहे फेल,basic shiksha parishad school में लगे हैं सिस्टम - प्राइमरी का मास्टर - UPTET | Primary Ka Master | Basic Shiksha News | Shiksha Mitra News
  • primary ka master

    LATEST PRIMARY KA MASTER - BASIC SHIKSHA NEWS TODAY


    Saturday, 20 April 2019

    नेडा के सोलर, आरओ सिस्टम हो रहे फेल,basic shiksha parishad school में लगे हैं सिस्टम

    नेडा के सोलर, आरओ सिस्टम हो रहे फेल,basic shiksha parishad school में लगे हैं सिस्टम


    प्रयागराज : परिषदीय विद्यालयों के बच्चों, शिक्षकों एवं अन्य स्टॉफ को शुद्ध पेयजल के लिए सोलर आरओ सिस्टम लगाए जा रहे हैं। कई विद्यालयों में यह सिस्टम फेल हो रहा है। जिले के 100 परिषदीय विद्यालयों में सोलर आरओ प्लांट लगाने की कार्य योजना करीब सात-आठ महीने पहले बनी। अब तक 96-97 विद्यालयों में 200 लीटर क्षमता के आरओ प्लांट लगाए जा चुके हैं।
    जलापूर्ति के लिए विद्यालयों में 1000 हजार लीटर की दो पानी की टंकियां, हैंडपंपों में एक हॉर्स पॉवर के सोलर सबमर्सिबल, पानी की पांच टोटियां लगाई गई हैं। आरओ सिस्टम और रसोई घरों से पानी के कनेक्शन भी किए गए हैं। हवा के लिए विद्यालयों में पांच सोलर फैन भी लगाए गए हैं। पंखे और सबमर्सिबल के संचालन के लिए 1.1 किलोवॉट क्षमता के सोलर प्लांट भी लगाए गए हैं। शहरी क्षेत्र के ही बमरौली, रोशनबाग, तुलसीपुर, बक्शी कला, साउथ मलाका, अबूबकरपुर विद्यालयों में सबमर्सिबल और पंखे काम न करने की शिकायत खंड शिक्षा अधिकारी (नगर) से की गई है। गांवों के विद्यालयों से भी शिकायतें मिल रही हैं। इस की जिम्मेदारी नेडा के जरिए चेन्नई की एजेंसी रिच पाइटोकेयर को मिली है। एजेंसी के एक ठेकेदार ने भी तकनीकी दिक्कत तो है गांव के विद्यालयों में लोग इसे तोड़फोड़ दे रहे हैं।



    PRIMARY KA MANSTER WEELKY TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER MONTHLY TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER NOTICE

    नोट:-इस वेबसाइट / ब्लॉग की सभी खबरें google search व social media से लीं गयीं हैं । हम पाठकों तक सटीक व विश्वसनीय सूचना/आदेश पहुँचाने की पूरी कोशिश करते हैं । पाठकों से विनम्रतापूर्वक अनुरोध है कि किसी भी ख़बर/आदेश का प्रयोग करने से पहले स्वयं उसकी वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें । इसमें वेबसाइट पब्लिशर की कोई जिम्मेदारी नहीं है । पाठक ख़बरों/आदेशों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा ।