परिषदीय विद्यालय से शिक्षिका का अपहरण, इंचार्ज प्रधानाध्यापिका ने दर्ज कराया मुकदमा - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad
  • basic shiksha news updatemarts :

    Wednesday, 3 April 2019

    परिषदीय विद्यालय से शिक्षिका का अपहरण, इंचार्ज प्रधानाध्यापिका ने दर्ज कराया मुकदमा

    परिषदीय विद्यालय से शिक्षिका का अपहरण, इंचार्ज प्रधानाध्यापिका ने दर्ज कराया मुकदमा


    बलरामपुर) : थाना क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय जुगली में तैनात शिक्षिका शिवानी यादव निवासी ग्राम होलपुरा थाना ओछा जिला मैनपुरी को दिनदहाड़े स्कूल से मारपीट करके अपहृत किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। शिक्षिका के अपहरण की खबर फैलते ही शिक्षक संगठनों में आक्रोश व्याप्त हो गया। सूचना पर सीओ तुलसीपुर प्रेमकुमार थापा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य व बीएसए हरिहर प्रसाद भी स्कूल पहुंचे। विद्यालय की इंचार्ज प्रधानाध्यापिका नीतू रानी की तहरीर पर चार अज्ञात अपहरणकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
    बताया जाता है कि मंगलवार को तुलसीपुर शिक्षा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय जुगली में सहायक अध्यापिका शिवानी यादव शिक्षण कार्य कर रही थी। इसी बीच चारपहिया सवार दो महिला व दो पुरुष विद्यालय में आ धमके। शिक्षिका से बातचीत करने लगे। इसके बाद शिक्षिका को मार-पीट कर जबरन गाड़ी में लाद ले गए। शिक्षिका को लेने स्कूली वैन पहुंची, तो वह नदारद मिली। बच्चों से पूछताछ पर पता चला कि उसे कुछ लोग मारपीट कर चौपहिया में उठा ले गए हैं। इंचार्ज प्रधानाध्यापिका नीतू रानी ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि वह मंगलवार को अवकाश पर थी। शिक्षामित्र सुमन द्विवेदी ने फोन से घटना की जानकारी दी। एसपी अनुराग आर्य का कहना है कि कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं। अपहरणकर्ताओं को पकड़ने के लिए कई थानों की पुलिस लगाई गई है। जल्द ही मामले का राजफाश कर दिया जाएगा।

    कॉल डिटेल खंगाल रही पुलिस: शिक्षिका के अपहरण मामले में पुलिस के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं। पुलिस ने बलरामपुर नगर में किराए के मकान में साथ रहने वाली रूम पार्टनर से भी पूछताछ की है। पुलिस सूत्र की मानें तो शिक्षिका पांच दिन से अपने कमरे में नहीं रहती थी। रूम पार्टनर को उसने दोस्तों के साथ रहने की बात बताई थी। इस ¨बदु को आधार मानकर पुलिस अपनी पड़ताल कर रही है। शिक्षिका के कॉल डिटेल खंगाले जा रहे हैं। एसपी अनुराग आर्य के मुताबिक यह नजदीकी मामला हो सकता है। अपहरणकर्ताओं के पकड़े जाने के बाद ही वास्तविकता का पता चल सकेगा।