गोण्डा : चुनाव ड्यूटी पर आये कर्मचारी की मौत, निर्वाचन आयोग देगा 15 लाख मुआवजा,परिजडीएम के आदेश पर हुआ पोस्टमार्टम - Primary Ka Master || UPTET, Basic Shiksha News, TET, UPTET News
  • primary ka master

    PRIMARY KA MASTER- UPTET, BASIC SHIKSHA NEWS, UPTET NEWS LATEST NEWS


    Sunday, 5 May 2019

    गोण्डा : चुनाव ड्यूटी पर आये कर्मचारी की मौत, निर्वाचन आयोग देगा 15 लाख मुआवजा,परिजडीएम के आदेश पर हुआ पोस्टमार्टम

    गोण्डा : चुनाव ड्यूटी पर आये कर्मचारी की मौत, निर्वाचन आयोग देगा 15 लाख मुआवजा,परिजडीएम के आदेश पर हुआ पोस्टमार्टम

    पोलिंग पार्टी रवानगी के दौरान मतदान कार्मिक कि तबियत बिगड़ने से हुई मौत

    डीएम के आदेश पर हो रहा है पोस्टमार्टम

    हिन्दुस्तान संवाद ,गोंडा । टामसन इंटर में चुनाव ड्यूटी पर आये डायट दर्जीकुंआ में वरिष्ठ लिपिक के पद पर तैनात रहे बृजेंद्र शुक्ला की अचानक मौत हो गई। श्री शुक्ला की मौत पर जिला अस्पताल में परिजनों और कर्मचारियों ने जमकर हंगामा काटा।
    बताया जा रहा है बृजेंद्र शुक्ला रविवार दोपहर बाद अचानक टामसन कालेज के मैदान में बेहोश होकर गिर पड़े। जब उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया तो वहां हार्ट अटैक आ गया। परिजनों ने डाक्टरों पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है। काफी हंगामा होने की सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंची। वहीं इमर्जेंसी में तैनात डाक्टर मारपीट का आरोप लगाया है। अचानक हुई इस मौत से बेसिक शिक्षा विभाग और डायट के कर्मचारियों में शोक की लहर है।
    सूचना विभाग गोण्डा 05 मई 2019
    गोण्डा । आज टामसन ग्राउंड पर पोलिंग पार्टियों की रवानगी के दौरान पार्टी संख्या 1678 के मतदान अधिकारी प्रथम बृजेन्द्र शुक्ला की तबियत अचानक बिगड़ गई. वे वहीं पर चक्कर खाकर गिर पड़े. उन्हे इलाज के लिए  तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया जहां पर डॉक्टरों ने उन्हे मृत घोषित कर दिया
    जिस वक्त उनकी तबियत बिगड़ी उस समय वे मतदान सामग्री रिसीव कर रहे थे और उनकी उनकी ड्यूटी बतौर मतदान अधिकारी प्रथम करनैलगन्ज में लगाई गई थी. मोतीगंज निवासी श्री शुक्ला डायट दर्जी कुंआ पर कनिष्ठ लिपिक के पद पर कार्यरत थे और पिछले 6 माह पूर्व ही चतुर्थ श्रेणी से प्रमोशन पाकर तृतीय श्रेणी में पदोन्नत हुए थे. मृतक के परिजनों ने बताया कि श्री शुक्ला को पहले से कोई भी गंभीर बीमारी नहीं थी.
    जिला  निर्वाचन अधिकारी डॉ॰ नितिन बंसल ने बताया कि निर्वाचन आयोग द्वारा परिजनों को पन्द्रह लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा. इसके अतिरिक्त परिजनों को नियमानुसार विभागीय  मुआवजे व अन्य लाभ  भी दिए जाएंगे.  जिला निर्वाचन अधिकारी के आदेश पर मृतक का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है.