uppsc के भ्रष्ट अधिकारी सरकार के निशाने पर, अभ्यर्थियों को मुख्यमंत्री ने दिया कार्यवाही का आश्वासन - Primary Ka Master || UPTET, Basic Shiksha News, TET, UPTET News
  • primary ka master

    LATEST PRIMARY KA MASTER - BASIC SHIKSHA NEWS TODAY


    Monday, 15 July 2019

    uppsc के भ्रष्ट अधिकारी सरकार के निशाने पर, अभ्यर्थियों को मुख्यमंत्री ने दिया कार्यवाही का आश्वासन

    uppsc के भ्रष्ट अधिकारी सरकार के निशाने पर, अभ्यर्थियों को मुख्यमंत्री ने दिया कार्यवाही का आश्वासन

    प्रयागराज: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) को भ्रष्टाचार मुक्त करने को सरकार प्रतिबद्ध है। भ्रष्टाचारी अधिकारी व कर्मचारी सरकार के निशाने पर हैं।
    पीसीएस-जे 2018 के अभ्यर्थियों से लखनऊ में अपने सरकारी आवास में शनिवार को मुलाकात के दौरान योगी ने कहा कि आयोग में हुए भ्रष्टाचार की जांच एसटीएफ कर रही है।


    एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती पेपर लीक मामले में अभियुक्त कौशिक कुमार कर व उसके प्रिंटिंग प्रेस के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। योगी ने बताया कि सरकार ने आयोग को एलटी ग्रेड परीक्षा परिणाम जारी करने से मना किया था, लेकिन आयोग स्वायत्तशासी संस्था है इसलिए उसने परिणाम जारी कर दिया। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे अभ्यर्थी आशीष पटेल ने बताया कि योगी से पीसीएस-जे 2018 की परीक्षा में धांधली होने की शिकायत करके उन्हें उससे जुड़े कुछ प्रमाण दिखाए गए। 


    इस पर योगी ने कहा कि प्रतियोगी छात्रों के साथ न्याय होगा। भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सरकार ने डॉ. प्रभात कुमार जैसे ईमानदार व सख्त अधिकारी को आयोग का अध्यक्ष बनाया गया है। जल्द ही भ्रष्टाचार के विरुद्ध बड़े स्तर पर कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए आयोग में मौजूद अधिकारियों व कर्मचारियों की संपत्ति का ब्योरा एकत्र कराया जा रहा है। कहा कि पीसीएस-जे मामले में वह आयोग के अध्यक्ष से बात करके उचित कार्रवाई को कहेंगे। अभ्यर्थियों से उन्होंने आयोग अध्यक्ष से मिलने को कहा है। प्रतिनिधिमंडल में केपी सिंह, जितेंद्र मिश्र, मनोज, अनुपम सिंह, वीरेंद्र प्रताप सिंह शामिल रहे।


    PRIMARY KA MANSTER WEELKY TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER MONTHLY TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER TOP NEWS