वाह मंत्री जी वाह! तीन दिन में सेवा समाप्त ? जैसे कोई ज़मींदार धमका रहा हो - प्राइमरी का मास्टर - UPTET | Primary Ka Master | Basic Shiksha News | Shiksha Mitra News
  • primary ka master

    LATEST PRIMARY KA MASTER - BASIC SHIKSHA NEWS TODAY


    Wednesday, 11 September 2019

    वाह मंत्री जी वाह! तीन दिन में सेवा समाप्त ? जैसे कोई ज़मींदार धमका रहा हो

    वाह मंत्री जी वाह! तीन दिन में सेवा समाप्त ? जैसे कोई ज़मींदार धमका रहा हो

    वाह मंत्री जी वाह! तीन दिन में सेवा समाप्त ? जैसे कोई ज़मींदार धमका रहा हो

    क्या कभी आप ये बात अपने विभागीय अफसरों को कहेंगे कि -

    • रसोइयों का पिछले 10 माह का मानदेय तीन दिन के अन्दर दो नहीं तो सेवा समाप्त।
    • एमडीएम कन्वर्जन अगर तीन माह से ज्यादा का उधार हुआ तो सेवा समाप्त।
    • राशन डीलर से कह सकेंगे कि अगर बोरी में खाद्यान्न तीन किलो से ज्यादा कम निकला तो कोटा समाप्त।
    • प्रधान से कहेंगे कि सूचना मिलने के बाद अगर स्कूल का नल तीन दिन के अन्दर ठीक न हुआ तो प्रधानी समाप्त।
    • वित्त विभाग से कहेंगे कि यदि सैलरी निकलने के तीन दिन के अन्दर एनपीएस कटौती यदि
    • कर्मचारी के एनपीएस खाते में न पहुंची तो सेवा समाप्त।स्वीपर से कहेंगे कि यदि विद्यालय की सफाई तीन दिन से ज्यादा देर से हुई तो सेवा समाप्त।
    • विभागीय अधिकारियों और संबंधित कर्मचारियों से कहेंगे कि नये अध्यापक के ज्वाइनिंग पर अगर एक माह के अन्दर सैलरी न लगी तो सेवा समाप्त।

     क्या इन बातों का हैं जवाब -

    • प्रमोशन लेट करें सरकार तो कोई बात नही 
    • ट्रांसफर लेट हो तो  कोई  बात नही
    • वेतन लेट हो तो कोई बात नही
    • एरीयर लेट हो तो कोई बात नही
    • किताबे लेट हो तो कोई बात नही
    • जूते मोजे लेट हो तो कोई बात नही
    • शिक्षक भर्ती का रिज़ल्ट 7 माह से ना आए तो कोई बात नही
    लेकिन अगर टीचर 3 दिन लेट हो जाए तो सीधे उसकी नौकरी छीन लो, भला ये कौन सा इंसाफ है ?

    स्रोत - whatapps पर वायरल कंटेंट

    PRIMARY KA MANSTER WEELKY TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER MONTHLY TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER TOP NEWS

    PRIMARY KA MASTER NOTICE

    नोट:-इस वेबसाइट / ब्लॉग की सभी खबरें google search व social media से लीं गयीं हैं । हम पाठकों तक सटीक व विश्वसनीय सूचना/आदेश पहुँचाने की पूरी कोशिश करते हैं । पाठकों से विनम्रतापूर्वक अनुरोध है कि किसी भी ख़बर/आदेश का प्रयोग करने से पहले स्वयं उसकी वैधानिक पुष्टि अवश्य कर लें । इसमें वेबसाइट पब्लिशर की कोई जिम्मेदारी नहीं है । पाठक ख़बरों/आदेशों के प्रयोग हेतु खुद जिम्मेदार होगा ।