69000 शिक्षक भर्ती में रिजल्ट तो मात्र ट्रेलर लेकिन शिक्षक चयन की पूरी पिक्चर बाकी - primary ka master 69000 Bharti Merit ka khel
69000 शिक्षक भर्ती में पास-फेल से पर्दा उठ चुका है लेकिन, अब भी शिक्षक चयन की पूरी पिक्चर बाकी है। तय कटऑफ अंक न पाने वाले वर्गवार अभ्यर्थी शिक्षक बनने की दौड़ से बाहर हो चुके हैं। परीक्षा संस्था की वेबसाइट बुधवार को इसे और स्पष्ट कर देगी। अगली जंग अब सफल अभ्यर्थियों के बीच छिड़ने जा रही है।

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक का चयन एकेडमिक मेरिट से होता रहा है लेकिन योगी आदित्यनाथ ने चयन का माध्यम लिखित परीक्षा बनाया। यह दूसरी भर्ती है जिसमें 69000 शिक्षकों का चयन होने जा रहा है। यह 68500 शिक्षक भर्ती से बिल्कुल अलग है, क्योंकि पहली लिखित परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों की तादाद भर्ती के कुल पदों से काफी कम 41556 ही थी, इसलिए शिक्षक चयन के लिए गुणांक का कोई मायने नहीं था। जबकि दूसरी 69000 भर्ती में सफल होने वालों की संख्या दोगुने से अधिक है इसलिए चयन का पूरा दारोमदार गुणांक पर ही निर्भर है। परिषद की ओर से सभी सफल अभ्यर्थियों का गुणांक उनकी अब तक की मेरिट के अनुसार तय होगा। इसमें सबसे आगे रहने वाले अभ्यर्थी ही शिक्षक बन सकेंगे।

ऐसे तय होगा गुणांक : हर अभ्यर्थी की 10वीं, 12वीं, स्नातक और शिक्षक प्रशिक्षण (बीटीसी, डीएलएड या बीएड) के 10-10 फीसदी अंक व 60 फीसदी अंक लिखित परीक्षा के जोड़े जाएंगे। इसमें मिलने वाले कुल अंक सभी अभ्यर्थी के चयन का आधार बनेगा। वहीं, शिक्षामित्रों को मिलने वाला भारांक भी मेरिट में जोड़ा जाएगा। इन अंकों की बदौलत वे आसानी से चयनित हो सकेंगे। अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन लेने के बाद परिषद सभी का गुणांक तय करेगी। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव उप्र अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि बुधवार को वेबसाइट पर परिणाम अपलोड होने के साथ ही बेसिक शिक्षा परिषद को सभी सफल अभ्यर्थियों की सूची भेजी जाएगी, ताकि चयन प्रक्रिया आगे बढ़ सके।