राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद ने जून 2018 में बीएड अभ्यर्थियों को प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक भर्ती का पात्र माना। 72825 शिक्षक भर्ती के बाद अब इन्हें मौका मिला है। लिहाजा इस भर्ती परीक्षा में सर्वाधिक बीएड वाले ही पास हुए हैं।