कोरोना वायरस कोविड 19 के क़हर से जूझ रहा है । LOCKDOWN-1.0, LOCKDOWN-2.0  के बाद अब LOCKDOWN-3.0 शुरू हो चुका है । फ़िलहाल यह दो हफ़्ते का रखा है । कोरोना वायरस संक्रमण के अनुसार प्रदेश में ज़ोन बनाए गए हैं ।Red zone, Orange zone, व Green zone में ग्रीन ज़ोन के लिए काफ़ी ढील दी गयी है । लॉकडाउन के दौरान बच्चों की पढ़ाई बाधित ना हो इसके लिए Online Class स्कूलों द्वारा चलाया जा रहा है ।

स्कूलों में जुलाई के बाद भी तीन महीने तक ऑनलाइन क्लास चलने के आसार
 बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा स्कूलों में भी ऑनलाइन क्लास के लिए whatsapp Group के माध्यम से बच्चों को ऑनलाइन क्लास दी जा रही है । कोरोना के संक्रमण को देखते हुए यह क्लास जलाई के बाद भी जारी रहने के आसार हैं । पूरे देश में कोरोना के लगातार केस बढ़ते ही जा रहे हैं । देश में कुछ आवश्यक चीजों के लिए ढील भले ही सरकार दे दे । लेकिन स्कूल - कालेज पूरी तरह बंद रहने के आसार हैं । 

Primary Ka Master Ready for Online Class But Student not - 

ऑनलाइन क्लास के लिए शिक्षक तैयार पर छात्र झेल रहे समस्या -
बेसिक शिक्षा उत्तर प्रदेश में शिक्षक भले ही ऑनलाइन क्लास के लिए तैयार हों । लेकिन छात्र अभी भी ऑनलाइन क्लास के लिए ज़रूरी उपकरणों के लिए जूझ रहे हैं । जैसे बहुतेरे बच्चों के घर में स्मार्टफ़ोन ही नही है । गाँवों में खेतों की कटाई का काम चल  रहा है । जिससे जिनके पास फ़ोन भी वह व्यस्त रहते हैं । लॉक डाउन के कारण फ़ोन का डेटा पैक भी रिचार्ज नही कारते है । जिससे इंटरनेट फ़ोन पर नही चलता है । ऐसे में शिक्षक भले ही ऑनलाइन क्लास के लिए तैयार हों । ऑनलाइन माध्यम से छात्रों की पढ़ाई हाशिए पर है । पूरी क्लास के बच्चों में पाँच दस फ़ीसदी बच्चों के पास स्मार्टफ़ोन है । और उसमें से कई बच्चों को घर वाले फ़ोन ही नही छूने को देते ।