primary ka master managed  online class in lockdown period
Primary Ka Master प्रदेश के सभी स्कूल बंद हैं तो क्या हुआ पढ़ने-पढ़ाने की प्रक्रिया अनवरत चल रही है। केवल उसका माध्यम बदल गया है। इतना ही नहीं छात्रों के साथ ही शिक्षक भी पढ़ाई कर रहे हैं। लॉकडाउन में यह अवसर मुहैया कराया है आंग्ल भाषा शिक्षण संस्थान उप्र प्रयागराज ने। बच्चों के लिए यू-ट्यूब चैनल पर संस्थान ने 100 से अधिक वीडियो अपलोड कर दिए हैं, ताकि वे आसानी से तैयारी कर सकें। वहीं, परिषदीय शिक्षक भी फर्राटे से अंग्रेजी बोलने का अभ्यास बढ़ा रहे हैं।

प्रयागराज का यह संस्थान अपने नाम के अनुरूप परिषदीय स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्रओं के लिए शिक्षण सामग्री मुहैया कराता आ रहा है। कक्षा एक से लेकर आठवीं तक के बच्चों की अंग्रेजी की किताबों में बदलाव आदि भी यही संस्थान करता रहा है। पिछले वर्षो में संस्थान ने पाठ्यक्रम के अनुसार वीडियो तैयार कराकर अपलोड कराया था, ताकि शिक्षकों को पाठ पढ़ाने में सहूलियत मिल सके। उन वीडियो को इस तरह से तैयार किया गया था कि बच्चे भी खुद तैयारी कर सके। इधर, देशभर में लॉकडाउन होने पर संस्थान ने पाठ्य सामग्री से आगे बढ़कर शिक्षकों का अंग्रेजी ज्ञान समृद्ध करने की पहल की है। संस्थान ने अंग्रेजी बोलने व सीखने के पाठ विकसित करके यू-ट्यूब पर अपलोड किया है। इसमें उच्चारण को दुरुस्त करने की अच्छी कोशिश की गई है। इसका नाम स्वयं से अंग्रेजी बोलना कैसे सीखें। ज्ञात हो कि शासन ने हर जिले में अंग्रेजी माध्यम स्कूल पिछले वर्षो में शुरू किए हैं। इसी तरह से बच्चों के लिए ईएलटीआइ प्रयागराज यू-ट्यूब चैनल पर 100 से अधिक वीडियो अपलोड कर दिए हैं। ई-कंटेंट के तहत अब भी लगातार नए-नए वीडियो तैयार किए जा रहे हैं। संस्थान प्राथमिक शिक्षकों के लिए ऑनलाइन स्पोकेन कोर्स भी विकसित कर रहा है, इसी को ध्यान में रखकर वेबसाइट तैयार कर ली गई है और उसे समृद्ध किया जा रहा है।