69000 शिक्षक भर्ती इन चार सवालों ने रोकी भर्ती प्रक्रिया जाने एक्सपर्ट की राय - four controversial questions
परीक्षा नियामक के विषय विशेषज्ञ का कहना है कि परीक्षा में सबसे अधिक विवाद नाथ सम्प्रदाय के प्रवर्तक वाले सवाल से जुड़ा है। मत्स्येन्द्रभाथ को नाथ सम्प्रदाय का प्रवर्तक माना जाता है जबकि साक्ष्यों के साथ
अभ्यर्थी सही जवाब गोरखनाथ बता रहे हैं। दूसरा सवाल भारत में गरीबी का आकलन किस आधार पर किया जाता है। निम्नलिखित में कौन सा एक सामाजिक प्रेरक है, इसमें परीक्षा नियामक और अभ्यर्थियों के जवाब अलग- अलग हैं। चौथा सवाल शैक्षिक प्रशासन से जुड़ा है, जिसके जवाब भी अलग-अलग हैं। इसके साथ हिंदी के तीन प्रश्नों को कोर्स से बाहर का बताया जा रहा है शिक्षक भर्ती परीक्षा के लगभग चार प्रश्नों को लेकर परीक्षार्थियों ने आपत्ति उठाई थी। कोर्ट की ओर से परिणाम जारी करने पर लगी रोक हटने के बाद सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने परीक्षार्थियों की आपत्तियों को दर किनार करते हुए नौ मई को संशोधित उत्तरमाला जारी करने के साथ तीन विवादित प्रश्नों को मूल्यांकन से हटा दिया। इन प्रश्नों पर सभी को बराबर अंक दिए गए। शेष आपत्तियों को अस्वीकार करते हुए सचिव ने कहा कि विवादित प्रश्नों को लेकर परीक्षा समिति का जो निर्णय है, उसी के अनुरूप फैसला किया गया है।