मानव सम्पदा ई सर्विस करेक्शन की समय सीमा 90 दिन बढ़े, शिक्षकों का न काटा जाए वेतन, शिक्षक संघों ने उठायी मांग - demand to extend e service book correction period

● फीडिंग कर रहे अधिकांस लोग(एक दो अपवाद छोड़कर) तकनीकी एक्सपर्ट नही है,रिलिविंग डेट, ,फायनेंसियल ट्रांजिक्शन,अंगूठा,उंगलियों के निशान,सिग्नेचर अपडेट करने से मना कर रहे है,तथा शैक्षिक योग्यता अधूरी भर रहे है, जबकि ये सब अति आवश्यक है ।
● सर्वर भी बहुत परेशान करता है, भरी हुई एंट्रीज उड़ा देता डाउन होकर ।

● टीचर्स द्वारा क़ई बार लिखित करेक्शन देने के बाद भी थोड़ा बहुत करेक्शन करके टहला दिया जाता, क़ई का तो व्यवहार भी शिक्षकों के साथ बेहद असहयोगात्मक है ।

● बहुत शिक्षकों के पासवार्ड गलत है, सिस्टम पासवार्ड ठीक नही कर पाता,तो चेक कैसे करें त्रुटियों को ?

● 30 जून तक किसी भी कीमत पर फीडिंग सम्भव है ही नही,औऱ ये कार्य ब्लॉक कार्यालयों का है, इसलिए उक्त त्रुटि के लिए किसी का भी बेतन रोकना तानाशाही है जिसका संघठन कड़ा बिरोध करता है ।

● मॉनव सम्पदा की फीडिंग की अंतिम तारीख 90 दिन बड़ाई जाए, जिससे ये अतिमहत्वपूर्ण दस्तावेज शतप्रतिशत सही भरे ।

● फीडिंग के लिए कार्यालयों का चक्कर लगा रहे शिक्षक/शिक्षिकाएं कोरोना महामारी के भय से भी ग्रसित हो रहे है*