Fake appointment of teachers बीएसए की समिति करेगी जांच
प्रदेश के परिषदीय प्राथिमक विद्यालयों में अनियमित, नियम विरूद्ध एवं फर्जी नियुक्तियों की खबरों पर गंभीरता दिखाते हुए शासन ने प्रत्येक जिले में एडीएम की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय समिति का गठन कर दिया है। समिति इस प्रकार के प्रकरणों की जांच कर अपनी रिपोर्ट शासन को सौपेगी। 2018 में जारी आदेश  में  संशोधन करते हुए अब एडी बेसिक की बजाए बीएसए को सदस्य सचिव बनाया गया है।

2018 में ही शासन ने फर्जी एवं अनियमित नियुक्तियों की जांच हेतु मार्गदर्शक सिद्धांतों का उल्लेख करते हुए जनपद स्तर पर तीन सदस्यीय समिति का गठन कर ऐसे प्रकरणों की जांच का आदेश दिया था। इस समिति से अपेक्षा की गई थी कि परिषदीय प्राथमिक स्कूलों  में  फर्जी नियुक्तियों की जांच कर आख्या शासन को जल्द मुहैया कराई जाएगी। अब शासन ने बुधवार को इस शासनादेश  में  आंशिक संशोधन करते हुए कहा है कि फर्जी एवं अनियमित नियुक्ति वाले मामलों की जांच कर समिति जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट शासन को उपलब्ध कराए। सूत्र बताते हैं कि शासन फर्जी नियुक्तियों को लेकर शुरू से ही गंभीर है ।