Fatehpur सहित आठ आकांक्षी जिलों के बच्चों को मिलेगा गुड़ पट्टी, चिक्की और बेसन का हलवा से Extra nutrition  

आठ आकांक्षी जिलों में अतिरिक्त पोषण देने के लिए मिड डे मील के तहत गुड़ पट्टी, चिक्की, बेसन का हलवा भी दिया जाएगा। नए शैक्षिक सत्र से नियमित मिड डे मील के अलावा इन्हें भी परोसा जाएगा। यहां के 13,52,253 बच्चों को इसका लाभ मिलेगा। 



इसके लिए केन्द्र सरकार ने लगभग 90 करोड़ रुपए के बजट की अतिरिक्त मंजूरी दी है। प्रधानमंत्री द्वारा चयनित इन जिलों के 30 हजार प्राइमरी व जूनियर स्कूलों में पढ़ने वाले इन बच्चों को इन अतिरिक्त पोषक तत्वों का फायदा मिलेगा। इन जिलों में 211 दिन अतिरिक्त पोषक तत्व के लिए ये खाद्य सामग्री परोसी जाएगी। वहीं मेन्यू का खाना भी दिया जाएगा। 


अभी स्कूलों में 256 दिन एमडीएम दिया जाता है। सिद्धार्थनगर, फतेहपुर, बलरामपुर, श्रावस्ती, सोनभद्र, चंदौली, चित्रकूट, बहराइच के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को ये परोसा जाएगा। इसके लिए केन्द्र सरकार ने वार्षिक कार्ययोजना की बैठक में 9078.45 लाख रुपये के बजट को मंजूरी दी है। इसमें 5447.07 लाख रुपये केन्द्र व 3631.38 लाख रुपये राज्य खर्च करेंगे। 


राज्य सरकार की मंशा है कि पूरे प्रदेश में अतिरिक्त पोषण बच्चों को दिया जाए। लेकिन पहले चरण में सिर्फ आकांक्षी जिलों के लिए मंजूरी दी गई है। वहीं राज्य सरकार अपने बजट से हफ्ते में एक दिन फल भी स्कूलों में बंटवाती है।