Scam star अनामिका शुक्ला की सेटिंग देख सब ढंग, 25 स्कूलों में कर एक साथ कर रही थी नौकरी, गिरफ्तार anamika shukla arrest for forgery kasturba appointment

25 फर्जी ‘अनामिकाओं’ में एक प्रिया गिरफ्तार:- कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में दस्तावेजों की धोखाधड़ी के आधार पर नियुक्तियों का भंडाफोड़

सूबे के 25 जिलों के कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में अनामिका शुक्ला के नाम से नौकरी करने के मामले में एक फर्जी शिक्षिका को कासगंज में शनिवार को गिरफ्तार कर लिया गया। उसने अपना नाम प्रिया बताया है। वह अनामिका शुक्ला के नाम से नौकरी कर रही थी और नोटिस मिलने के बाद इस्तीफा देने बीएसए कार्यालय आई थी। इसी दौरान उसे पकड़ लिया गया। पुलिस ने उसके खिलाफ धोखाधड़ी समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में विज्ञान शिक्षिका के पद पर 25 जिलों में एक ही नाम से शिक्षिकाओं के कार्यरत होने का मामला सामने आया था। सभी के दस्तावेज भी एक ही हैं। मामले की जांच चल रही है। इस बीच कासगंज के फरीदपुर में तैनात शिक्षिका अनामिका शुक्ला को नोटिस भेजा गया। शनिवार को शिक्षिका बीएसए कार्यालय पहुंची। उसने अपने साथी से इस्तीफा भेजा और खुद बाहर कार में ही बैठी रही। युवक से जानकारी मिलने के बाद बाहर कार में बैठी शिक्षिका को पकड़ लिया गया। पूछताछ में उसने पुलिस को घंटों गुमराह किया। पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने बताया कि पकड़ी गई शिक्षिका तीन नाम बता चुकी है लेकिन, कोई अभिलेख नहीं मिले हैं। मामले की गहनता से जांच की जा रही है।

शैक्षिक अभिलेखों के अनुसार अनामिका शुक्ला की उम्र करीब 27 वर्ष है। हाईस्कूल एवं इंटर गोंडा से किया है। बीए गोंडा के रघुकुल महिला विद्यापीठ सिविल लाइन्स से किया है। वहीं बीएड आदर्श कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय अंबेडकरनगर से किया है।

एक अभिलेख से कई जिलों में नियुक्ति


माना जा रहा है कि सूबे में एक ही अभिलेख से अलग-अलग जिलों में शिक्षिकाओं की नियुक्ति हुई है। शैक्षिक अभिलेखों पर लगी फोटो भी काफी धुंधली है, जिससे अभ्यर्थी की पहचान मुश्किल है। शिक्षिका के इलाहाबाद बैंक के खाते में हर महीने वेतन का भुगतान भी होता रहा है। प्रिया अब तक करीब साढ़े चार लाख रुपये सैलरी ले चुकी है। पूछताछ में प्रिया ने बताया कि अभिलेख मैनपुरी के राज नाम के व्यक्ति ने उसे एक लाख रुपये में दिए थे।