UP Teacher Exam 2019 शिक्षक भर्ती का अदालती रिश्ता- एक के बाद एक सैकड़ों याचिकाएं दायर 69000 शिक्षक भर्ती मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

   
उत्तर प्रदेश में 69 हजार सहायक शिक्षकों की भर्ती मामले काअदालती रिश्ता खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। इलाहाबाद हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में एक के बाद एक याचिका दायर की जा रही है। इसी क्रम में अब कुछ अभ्यर्थियों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। अमिता त्रिपाठी और ऋषभ मिश्रा ने शिक्षक भर्ती परीक्षा में कई विवादित प्रश्नों के मामले को लेकर लखनऊ की खंडपीठ द्वारा दिए गए फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) दायर की है।


 इससे पहले शनिवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में आवेदन दाखिल कर उस आदेश में बदलाव करने की गुहार लगाई गई है जिसमें 69 हजार सहायक शिक्षकों भर्ती में से करीब 37 हजार भर्तियों पर रोक लगा दी गई है। बताया जा रहा है कि ये 37,000 परीक्षार्थी शिक्षामित्र है जिन्होंने इस परीक्षा में 40 से 45 फीसदी अंक प्राप्त किया है। हालांकि सरकार का कहना है कि इसकी संख्या कम है। सरकार ने सभी 69 हजार पदों पर भर्ती करने की इजाजत मांगी है।