Google Meet से Online Training आज से शुरू, बिना सरकारी टैबलेट व रिचार्ज, शिक्षकों की जेब पर भारी डिजिटल की तैयारी
फतेहपुर :: हिन्दुस्तान टीम पूर्व निर्धारित योजना के मुताबिक सोमवार से परिषदीय शिक्षकों का ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रारम्भ हो गया। पहले दिन तमाम शिक्षक नेटवर्क व कनेक्टिविटी की समस्या से जूझते रहे। उधर संगठनों के पदाधिकारियों ने कहा कि सरकार को पहले टैबलेट व रिचार्ज मुहैया कराना चाहिए। बेसिक शिक्षा विभाग में सेवारत शिक्षकों का ध्यानाकर्षण, आधार शिला एवं शिक्षण संग्रह जैसे माड्यूलों पर आधारित प्रशिक्षण आपाधापी में शुरू कर दिया गया।

 पहला दिन होने के कारण शिक्षकों को गूगल मीट के लिंक उसकी कनेक्टिविटी को लेकर खासी दिक्कत हुई। विभाग ने प्रशिक्षण के लिए स्कूलों अनुसार बैच बनाए हैं। अधिकतर ब्लॉक में स्कूल के सभी शिक्षकों के एक साथ प्रशिक्षण की योजना बनाई गई है। इस स्थिति में पहले बैच में प्रशिक्षण लेकर उन शिक्षकों को परेशानियों का सामना करना पड़ाजिनके स्कूल दूरदराज या मोबाइल नेटवर्क की समस्या से ग्रसित हैं। इन व्यवहारिक समस्याओं को लेकर शिक्षकों ने अपना मौखिक विरोध भी दर्ज कराया लेकिन आला अफसरों का हुक्म होने के कारण इस मामले पर उनकी कोई सहायता नहीं हो सकी।


Online Primary Ka Master Training -  सोमवार से बैचवार शुरू हुआ प्रशिक्षण,  नेटवर्क व कनेक्शन की समस्या से भी जूझते रहे शिक्षक


दूसरे बैच के शिक्षकों को परेशानी

 अधिकांश ब्लॉकों में दूसरे बैच में शामिल शिक्षकों ने अंदरखाने विरोध जताया है। उनका तर्क है कि या तो विभाग प्रशिक्षण वाले दिन उन्हें स्कूल से मुक्त करे या फिर सुबह की पाली में प्रशिक्षण की। वर्तमान व्यवस्था के मुताबिक पहले शिक्षक सुबह 8 बजे से 1 बजे तक अपने स्कूल जाएंगे और फिर इसके बाद दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक प्रशिक्षण में प्रतिभाग करेंगे। इस तरह इस बैच के शिक्षक सुबह 8 बजे से शाम 5 तक व्यस्त रहेंगे। दूसरी बड़ी समस्या यह है कि तमाम शिक्षक 30 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करते हैं इसलिए उनके सामने प्रशिक्षण में सही समय में शामिल होना बड़ी चुनौती बनेगा।

प्रशिक्षण के बाद देना होगा फीडबैक 

प्रशिक्षण सत्र के बाद शिक्षकों को फीडबैक देने के लिए एक लिंक उपलब्ध कराया जाएगा। इस लिंक का प्रयोग करते हुए शिक्षक प्रशिक्षण से सम्बन्धित अपना फीडबैक देंगे।