69000 Up Teacher Obc Commission - बीएसए से जातिवार भर्ती हुए अभ्यर्थियों का डिटेल मांग रहा ओबीसी आयोग

परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 69000 सहायक अध्यापक भर्ती में आरक्षण की अनदेखी के मामले में राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग प्रदेश के सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को दिल्ली बुलाकर जातिवार और वर्गवार चयनित अभ्यर्थियों का ब्योरा ले रहा है। मंडलवार बीएसए को बुलाकर अंतिम रूप से चयनित शिक्षकों की रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई होगी।

प्रयागराज के बीएसए संजय कुमार कुशवाहा समेतमंडल के अन्य अधिकारियों ने बुधवार को आयोग में रिपोर्ट प्रस्तुत की है। गुरुवार को सभी | बीएसए की रिपोर्ट जमा हो गई है। इस मामले में बेसिक शिक्षा विभाग के बड़े अफसरों की आयोग में पहले ही पेशी हो चुकी है। आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों का दावा है कि 69000 भर्ती में अनारक्षित वर्ग के लिए 34589, ओबीसी 18598, एससी 14459 एवं एसटी के लिए 1354 पद थे। इनमें एसटी के पर्याप्त अभ्यर्थी मौजूद न होने के कारण 1133 पद रिक्त रह गए ।

एक जून को अभ्यर्थियों की कैटेगरी, सब -कैटेगरी एवं गुणांक छुपाकर 67867 की विवादित अनंतिम चयन सूची जारी की गई। दावा किया कि सूची में आरक्षण अधिनियम- 1994 की धज्जियां उड़ाते हुए 50% अनारक्षित पदों 34589 के बाद भी चयन सूची में अवैध तरीके से सामान्य वर्ग के 7149 अभ्यर्थियों को चयन दे दिया गया।