खुशखबरी - जनवरी महीने से कर्मचारियों के मंहगाई भत्ते में चार फीसदी की बढोत्तरी तय - DA in January 



उपभोक्ता मूल्य सूचकांक जनवरी 2020 में 330, फरवरी  में 328, मार्च में 326, अप्रैल में 329, मई में 330, जून में 332, जुलाई में 336 अंक, अगस्त  में 338, सितंबर  में 340, अक्तूबर में 344, नवंबर में 345 अंक रहा। वहीं शुक्रवार जारी दिसंबर का उपभोक्ता मूल्य सूचकांक 342 अंक है।


वेतन एवं पेंशन निर्धारण के विशेषज्ञ एजी ब्रदरहुड के पूर्व अध्यक्ष हरिशंकर तिवारी का कहना है कि इस तरह से 12 महीने का औसतसूचकांक 335 अंक हुआ। इसके अनुसार महंगाई भत्ता 28.14 प्रतिशत होगा। डीए पूर्णांक में लिया जाता है। ऐसे में जनवरी से डीए 28 फीसदी देय होगा। उनका कहना है कि जनवरी 2020 से डीए फ्रीज है। ऐसे में इस बढ़ोतरी का लाभ जुलाई 2021 के वेतन से मिलेगा।

प्रयागराज: केंद्रीय कर्मचारियों व पेंशनर्स को इस महीने से महंगाई भत्ता चार प्रतिशत बढ़कर मिलेगा। कर्मचारियों व पेंशनर्स को मौजूदा समय में जुलाई 2020 से सात प्रतिशत महंगाई भत्ता देय है, लेकिन वह अभी नहीं मिल रहा है। अब इस महीने से भत्ते में चार प्रतिशत की और वृद्धि हो गई है।

इससे देशभर के करीब सवा करोड़ केंद्रीय कर्मचारी व पेंशनर्स लाभांवित होंगे। यह लाभ राज्य सरकार के कर्मचारियों व पेंशनरों को भी मिलेगा। केंद्र सरकार के श्रम मंत्रलय की ओर से लेबर ब्यूरो शिमला हर माह उपभोक्ता मूल्य सूचकांक जारी करता है। 

उसी आधार पर केंद्र सरकार के कर्मचारियों व पेंशनर्स का साल में दो बार जनवरी व जुलाई माह में महंगाई भत्ता तय किया जाता है। यह भत्ता पिछले 12 माह के औद्योगिक श्रमिकों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के औसत के आधार पर तय होता है। इसके आधार पर पिछले 12 माह के औसत पर गणना की जाती है।