Primary teacher salary in up बेसिक शिक्षा विभाग उत्तर प्रदेश में 3.34 करोड़ रुपये का वेतन बन गया सिर्फ हाजिरी लगाने का, इस जिले का है यह मामला
कासगंज। बेसिक शिक्षा विभाग अपने ही आदेशों से सवालों के घेरे में आ गया है। शिक्षकों को नियुक्ति के एक माह के बाद भी अभी तक स्कूलों का आवंटन नहीं हो सका है। इससे शिक्षक खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालयों पर मात्र उपस्थित लगाकर ही अपने घर लौट जाते है। जबकि शिक्षकों का बिना किसी कार्य के ही अब तक 3.3459954 रुपये वेतन पक्का हो गया है।


परिषदीय स्कूलों में 69000 शिक्षक भर्ती के तहत दूसरे चरण की काउंसिलिंग के बाद 794 नए शिक्षक मिल गए। शासन ने शिक्षकों को विद्यालय आवंटित करने की प्रक्रिया में इस साल बदलाव कर दिया। अब ऑनलाइन विद्यालयों के आवंटन की प्रक्रिया लागू हो चुकी है। जिले को जो नए शिक्षक मिले उनको विभाग ने 5 दिसंबर को नियुक्ति पत्र दे दिए। इसके बाद अन्य प्रक्रिया के बाद शिक्षकों की बीएसए कार्यालय पर ज्वाइनिंग की प्रक्रिया शुरू हो गई।