राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने यूपी बजट 2021-22 को कर्मचारियों के साथ छलावा बताया - up budget the illusion for govt employee

लखनऊ। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने प्रदेश सरकार के बजट को छलावा बताया है। परिषद की ओर से कहा गया है कि प्रदेश सरकार द्वारा पेश किए गए 2021-22 के बजट में कर्मचारियों के लिए कोई प्रावधान है ही नहीं।
साथ ही कोरोना काल में रोके गए महंगाई व अन्य भत्ते को लेकर भी सरकार ने बजट में कोई व्यवस्था नहीं की गई। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उत्तर प्रदेश के प्रांतीय अध्यक्ष इंजीनियर हरि किशोर तिवारी और महामंत्री शिवबरन सिंह यादव ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि सरकार कर्मचारियों द्वारा किए गए सराहनीय कार्यो को न भुलाए। परिषद की ओर से मांग की गई है कि रोके गये भत्तों को तत्काल बहाल किया जाए। परिषद ने पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाली और कैशलेस इलाज की व्यवस्था की भी मांग की।