बेसिक स्कूलों के जीर्णोद्धार के लिए अनुमति जरूरी नहीं, स्कूलों के विकास में दें मदद, बेसिक शिक्षामंत्री ने समाज के सक्षम लोगों से की अपील - donate for reforming basic school 2021

गोरखपुर। प्रदेश के बेसिक शिक्षामंत्री डॉ. सतीश चंद द्विवेदी ने कहा कि सरकारी स्कूलों के जीर्णोद्धारके लिए अब बेसिक शिक्षा विभाग से अनुमति लेने की जरूरत नहीं है। सिर्फ इच्छा पत्र बीएसए को देना है और बीएसए हर हाल में स्वीकृति देंगे। सरकार ने इस संबंध में शासनादेश भी जारी कर दिया है।


यही नहीं स्कूल पर संस्थाएं अपना स्मृति चिह्न भी लिख सकते हैं। समाज के सभी सक्षम लोगों से अपील है कि स्कूलों के विकास को लेकर मुख्यमंत्री के अभियान का हिस्सा बनें और अपना सहयोग करें। बेसिक शिक्षामंत्री शनिवार को अमर उजाला द्वारा आयोजित कोरोना वारियर्स सम्मान-2021 में शहर के गणमान्य लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहली नजर सरकारी स्कूलों पर पड़ी। उनकी सोच है कि बिना सरकारी स्कूलों के विकास और अच्छी शिक्षा के प्रदेश का विकास संभव नहीं है । गैलेंट समूह ने एक सरकारी स्कूल का जीर्णोद्धार करके उसे बहुत ही अच्छा बना दिया है। पहचानना मुश्किल है कि वह सरकारी स्कूल है । मीडिया ने खबरों से प्रोत्साहित करने का काम किया है, इसमें बड़ा क्रेडिट अमर उजाला को जाता है। जिसने सकारात्मक खबरों से अभियान को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाई है। बेसिक शिक्षामंत्री ने कहा कि सरकारी स्कूल आप का भी है। वहां पढ़ने वाले गरीब घरों के बच्चों को अच्छी शिक्षा और सुविधाएं मुहैया कराकर प्रदेश के विकास में अपना योगदान कर सकते हैं।