मिशन प्रेरणा लक्ष्य न बता पाने पर बीएसए ने शिक्षकों को लगाई फटकार, ये मिशन प्रेरणा लक्ष्य से ही सभी शिक्षक याद कर लें - mission prerna lakshya 2021

बेसिक शिक्षा अधिकारी दिनेश कुमार ने शनिवार को गोसाईगंज क्षेत्र के चार प्राइमरी और अपर प्राइमरी स्कूलों का निरीक्षण किया। बीएसए ने शिक्षक, शिक्षकाओं तथा शिक्षा मित्रों से प्रेरणा लक्ष्य के बारे में सवाल पूछे। शिक्षक, शिक्षिकाएं जवाब नहीं दे पाए । शिक्षा मित्र भी खामोश हो गए । इस परबीएसए ने सभी को फटकार लगाई और खुद गणिव और हिन्दी के प्रेरणा लक्ष्य बताए।


बीएसए ने गोसाईगंज के कंपोजिट विद्यालय महुरा कला, प्राथमिक विद्यालय पंचसरा, पूर्व माध्यमिक विद्यालय कपेरा तथा प्राथमिक विद्यालय मदारपुर का निरीक्षण किया । सभी शिक्षक उपस्थित मिले। सभी कक्षा में प्रेरणा तालिका, प्रेरणा सूची, प्रेरणा लक्ष्य चस्पा मिली लेकिन यह शिक्षक शिक्षिकाओं को याद नहीं थे । बीएसए ने इसे घोर लापरवाही बताया तथा कड़ी फटकार लगायी।

उन्होंने शिक्षकों को 100 दिन प्रेरणा ज्ञानोत्सव मनाने का निर्देश दिया। कक्षा एक से तीन तक के बच्चों को सहज पुस्तिका वितरण करने को कहा । पूर्व माध्यमिक विद्यालय में बच्चे पढ़ते मिले लेकिन शिक्षकों के पास कोई लेसन प्लान नहीं था।

स्कूल खुलने से पहले व्यवस्था का निर्देश

बीएसए ने एक मार्च से प्राइमरी की कक्षाएं शुरू होने से पहले स्कूलों में सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त करने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी स्कूलों में सैनीटाइजर, हैण्डवाश, मल्टीपल हैंडवाश सिस्टम सहित सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त करने को कहा। उन्होंने आने वाले बच्चों के लिए मास्क, सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनर तथा पल्स ऑक्सीमीटर भी खरीदने को कहा है। उन्होंने कहा कि कम्पोजिट धनराशि में 10 प्रतिशत रकम इसके लिए दी है। लिहाजा सभी स्कूलों में इसकी व्यवस्था जरुरी है।

प्रेरणा लक्ष्य 2021 - Mission Prerna Lakshya 2021 in pdf