8,194 अभ्यर्थियों को शाखा स्पष्ट करने का मौका - उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास विभाग के तहत प्रधानाचार्य श्रेणी-2, उपप्रधानाचार्य, सहायक निदेशक की भर्ती - uppsc latest news

 प्रयागराज : उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास विभाग के तहत प्रधानाचार्य श्रेणी-2, उपप्रधानाचार्य, सहायक निदेशक की भर्ती निकाली है।


वर्ष 2019 में निकली उक्त भर्ती में 50 हजार से अधिक आवेदन हुए हैं। इसमें 8,194 अभ्यर्थियों ने आवेदन पत्र में शाखा स्पष्ट नहीं किया है। ऐसे अभ्यर्थियों को शाखा स्पष्ट करने के लिए आयोग ने मौका दिया है। इसके बाद भी शाखा स्पष्ट न करने वालों का अभ्यर्थन निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी। व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के तहत आवेदक करने वाले को स्नातक शाखा का ब्योरा भी देना था, जिससे उनकी भर्ती उसी वर्ग में सुनिश्चित की जा सके। अभ्यर्थियों को बताना था कि उन्होंने अभियंत्रण शाखा (1. यांत्रिक/ आटोमोबाइल/उत्पादन, 2. विद्युत, 3. इलेक्ट्रानिक्स एवं दूरसंचार अभियांत्रिकी) में से किसमें स्नातक किया है। लेकिन, आठ हजार से अधिक अभ्यर्थियों ने उसकी सूचना दर्ज नहीं की है। उन्हें 30 अप्रैल तक उसे दर्ज करना होगा। आयोग के सचिव जगदीश ने कहा कि तय तारीख में निर्धारित सूचना न देने वाले को परीक्षा में शामिल नहीं किया जाएगा और अभ्यर्थन निरस्त कर दिया जाएगा। इसके बाद कोई अतिरिक्त मौका नहीं दिया जाएगा।
- व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास विभाग के तहत निकली है भर्ती
- तय तारीख में निर्धारित सूचना देने वाले को परीक्षा में नहीं किया जाएगा शामिल