स्कूल बंद हैं तो क्या ऑनलाइन डिजिटल कंटेंट से बच्चे घर बैठे करेंगे पढ़ाई, बस गांव से बच्चों के पास स्मार्टफोन होना है जरूरी - Digital Content for Online Teaching in up

 व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए बच्चों या फिर उनके अभिभावकों के पास कंटेंट भेजे जाएंगे, जिससे बच्चे अभ्यास कर सकेंगे। बच्चों को ऑडियो और वीडियो के माध्यम से भी गणित समेत अन्य विषयों की जानकारी दी जाएगी। सरकार ने 2020 में अप्रैल के पहले सप्ताह से ही डिजिटल कंटेंट बच्चों को उपलब्ध कराना शुरू किया था। 30 फ़ीसदी बच्चों तक ही डिजिटल कंटेंट पहुंच पा रहे थे। चार लाख बच्चों तक डिजिटल कंटेंट नियमित पहुंचाने का प्रयास किया गया। हालांकि बहुतायत ऐसे बच्चे रहे जिनके पास मोबाइल तक नहीं थे।


उन्हें ऑफलाइन या फिर दूसरे माध्यम से पढ़ाने की भी तैयारी की जा रही है। डिजिटल कंटेंट के साथ-साथ सभी बच्चों के हाथों में पाठ्य पुस्तकें हो इसके लिए निर्देश जारी किए जा चुके हैं। जल्द से जल्द सभी बच्चों को किताबें मिल सके इसके लिए स्कूलों तक किताब पहुंचाने की गाइडलाइन भेजी गई थी। स्कूल के शिक्षक और क्लास वार बच्चों का व्हाट्सएप ग्रुप तैयार किया जा रहा है।


विद्यालय बंद है। बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाया जाएगा। व्हाट्सएप ग्रुप पर बच्चों को कंटेंट उपलब्ध कराया जाएगा। ताकि वह घर पर रहकर पढ़ाई कर सके। साथ ही अन्य संसाधनों के माध्यम से बच्चों को बेहतर शिक्षा दी जाएगी। - अम्बरीष कुमार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, आजमगढ़।