ईमेल कैसे करें ? स्टेपवाइज ट्यूटोरियल जाने, पुरानी पेंशन बहाली हेतु ईमेल करने का सरल तरीक़ा जाने - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad up
  • primary ka master basic shiksha news :

    सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा 2019 आवेदन करें

    69000 सहायक अध्यापक भर्ती 2019 हेतु ऑनलाइन आवेदन करने हेतु क्लिक करें ।

    Saturday, 8 December 2018

    ईमेल कैसे करें ? स्टेपवाइज ट्यूटोरियल जाने, पुरानी पेंशन बहाली हेतु ईमेल करने का सरल तरीक़ा जाने

    बेसिक शिक्षक परिवार डॉट काम टेकवर्ल्ड में आइए जाने पुरानी पेंशन बहाली हेतु pendir@up.nic.in पर ईमेल कैसे करें ?

    ईमेल कैसे करें ? स्टेपवाइज ट्यूटोरियल जाने, पुरानी पेंशन बहाली हेतु ईमेल करने का सरल तरीक़ा जाने

    e-mail  कैसे करें की जानकारी के साथ ईमेल भेजते समय किन-2 बातों को  ध्यान में रखना है । इन सभी बातों की जानकारी दी जाएगी । यह बिल्कुल चिट्ठी(Letter)भेजने जैसा है । इससे तो भलीभाँति वाकिफ़ होंगे कभी ना कभी आपने या आपके किसी अपने ने भी चिट्ठी भेजी होगी या प्राप्त की होगी । जैसे कोई लेटर  (चिट्ठी) या स्पीडपोस्ट भेजते समय  हमें पाने  एवं भेजने वाले का पता लिखते हैं ठीक वैसे ईमेल में भी होता है |
    स्टेप 1 :- लॉगिन करें (Sign in)
    ईमेल कैसे करें ? स्टेपवाइज ट्यूटोरियल जाने, पुरानी पेंशन बहाली हेतु ईमेल करने का सरल तरीक़ा जाने
    यह जी-मेल लॉगिन पेज से ली गयी है |यहाँ हम आपको  जी-मेल के माध्यम से e-mail भेजने की जानकारी देंगे |ईमेल भेजने से पहले आप अपने e-mail सर्वर में लॉगिन करें ईमेल सर्वर से मतलब आपके ईमेल सर्विस प्रवाइडर से है या की जिसमें आपका e-mail अकाउंट है |लॉगिन करने के लिए आप अपना ईमेल एवं पासवर्ड एंटर करें |एंटर करने की बाद साइन इन (Sign in) बटन में  क्लिक करें |
    स्टेप 2 :-  कंपोज़  करें (compose)
    ईमेल कैसे करें ? स्टेपवाइज ट्यूटोरियल जाने, पुरानी पेंशन बहाली हेतु ईमेल करने का सरल तरीक़ा जाने
    जैसे ही आप जी-मेल लॉगिन करते हैं आपको बाएँ तरफ कंपोज़ बटन दिखाई देती है  ईमेल भेजने के लिए कंपोज़ बटन में क्लिक करें |सर्विस प्रोवाइडर के हिसाब से Compose mail या +New या Create New Mail  या Send Email जैसे ईमेल भेजने के विकल्प हो सकते हैं अतः भ्रमित ना हों |
    स्टेप 2 :- क्रिएट  करें (Create) 



    ईमेल कैसे करें ? स्टेपवाइज ट्यूटोरियल जाने, पुरानी पेंशन बहाली हेतु ईमेल करने का सरल तरीक़ा जाने
    1. To :- जिसे आप ईमेल भेजना चाहते हैं उसका ईमेल अड्रेस लिखें | जैसे pendir@up.nic.in
    2. Subject :- किस बारे में ईमेल भेजा जा रहा है उसका विषय लिखें जैसे आप अपनी फोटो भेजना चाहते हैं तो आप MY PHOTOS या जो भी संबंधित विषय हो लिख सकते हैं|
    3.Message :- ईमेल प्राप्तकर्ता को जो भी मैसज लिखना चाहें यहाँ लिख सकते हैं  |
    4.Attach :- यदि आप कोई फोटो ,ऑडियो, वीडियो, फाइल,डॉक्युमेंट्स  आदि भेजना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें एवं संबंधित फाइल अटैच करें |
    5.Send :-  अब जब आपनें संबंधित जानकारी या फाइल जो भी भेजना चाहते हैं ईमेल में फीड कर दिया है तो अब आप Send बटन में क्लिक करें |आपके द्वारा भेजा गया ईमेल प्राप्तकर्ता को मिल जाएगा |
    Sent Mail में भेजे गये ईमेल की जानकारी ले सकते हैं  |

    पुरानी पेंशन बहाली हेतु ईमेल भेजने हेतु नीचे दिए गये मैटर ( subject ) को कॉपी करें  -


    महोदय 
    सादर अवगत कराना है कि नवीन पेंशन योजना और पुरानी पेंशन योजना में बहुत अंतर है कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना ही हितकर है आपको दोनों पेंशन योजना में सादर अवगत कराना चाह रहा हूं और आपसे पुरानी पेंशन बहाली के लिए निवेदन करता हूं
    तो आइए देखते हैं दोनो में अन्तर –
    1-पुरानी पेंशन पाने वालों के लिए जी0 पी0 एफ0 सुविधा उपलब्ध है जबकि नयी पेंशन योजना में जी0 पी 0एफ0 नहीं है ।
    2-पुरानी पेंशन के लिए वेतन से  होती है जब चाहो जितनी जमा करेा जब चाहो जितनी निकालो  जबकि नयी पेंशन योजना में वेतन से प्रति माह 10%की कटौती निर्धारित है और निकालने का कुछ पता नहीं ा
    3-पुरानी पेंशन योजना में रिटायरमेन्ट के समय एक निश्चित पेंशन( अन्तिम वेतन का 50%) की गारेण्टी है जबकि नयी पेंशन योजना में पेंशन कितनी मिलेगी यह निश्चित नहीं है यह पूरी तरह शेयर मार्केट व बीमा कम्पनी पर निर्भर है ।
    4-पुरानी पेंशन सरकार देती है जबकि नयी पेंशन बीमा कम्पनी देगी । यदि कोई समस्या आती है तो हमे सरकार से नहीं बल्कि बीमा कम्पनी से लडना पडेगा ।
    5-पुरानी पेंशन पाने वालों के लिए रिटायरमेंट पर ग्रेच्युटी( अन्तिम वेतन के अनुसार 16.5माह का वेतन) मिलता है जबकि नयी पेंशन वालों के लिये ग्रेच्युटी की कोई व्यवस्था नहीं है ।
    6-पुरानी पेंशन वालों को सेवाकाल में मृत्यु पर डेथ ग्रेच्युटी मिलती है जो 7पे कमीशन ने 10लाख से बढाकर 20लाख कर दिया है जबकि नयी पेंशन वालों के लिए डेथ ग्रेच्युटी की सुविधा समाप्त कर दी गयी है ।
    7-पुरानी पेंशन में आने वाले लोंगों को सेवाकाल में मृत्यु होने पर उनके परिवार को पारिवारिक पेंशन मिलती है जबकि नयी पेंशन योजना में पारिवारिक पेंशन को समाप्त कर दिया गया है ।
    8-पुरानी पेंशन पाने वालों को हर छ: माह बाद महँगाई तथा वेतन आयोगों का लाभ भी मिलता है जबकि नयीपेंशन में फिक्स पेंशन मिलेगी महँगाई या वेतन आयोग का लाभ नहीं मिलेगा यह हमारे समझ से सबसे बडी हानि है ।
    9-पुरानी पेंशन योजना वालों के लिए जी0 पी0 एफ0 से आसानी से लोन लेने की सुविधा है जबकि नयी पेंशन योजना में लोन की कोई सुविधा नही है( विशेष परिस्थिति में कठिन प्रक्रिया है केवल तीन बार वह भी रिफण्डेबल) ।
    11-पुरानी पेंशन योजना में जी0 पी0 एफ0 निकासी( रिटायरमेंट के समय) पर कोई आयकर नहीं देना पडता है जबकि नयी पेंशन योजना में जब रिटायरमेंट पर जो जो अंशदान का 60%वापस मिलेगा उसपर आयकर लगेगा 
    12-जी 0पी0एफ0पर ब्याज दर निश्चित है जबकि एन0 पी0 एस0 पूरी तरह शेयर पर आधारित है    नवीन पेन्‍शन योजना एक धोखा…

    अतः हमें पुरानी पेंशन चाहिए।इससे अतरिक्त हमें स्वीकार नहीं।