Rashtriya Shaikshik Mahasangh (RSM) राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने शिक्षकों की समस्याओं को त्वरित हल किए जाने के संबंध में वित्त एवं लेखाधिकारी को सौंपा ज्ञापन - primary ka master | basic shiksha news | updatemarts | uptet news | basic shiksha parishad up
  • primary ka master basic shiksha news :

    सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा 2019 आवेदन करें

    69000 सहायक अध्यापक भर्ती 2019 हेतु ऑनलाइन आवेदन करने हेतु क्लिक करें ।

    Tuesday, 10 July 2018

    Rashtriya Shaikshik Mahasangh (RSM) राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने शिक्षकों की समस्याओं को त्वरित हल किए जाने के संबंध में वित्त एवं लेखाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

    Rashtriya Shaikshik Mahasangh (RSM) राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने शिक्षकों की समस्याओं को त्वरित हल किए जाने के संबंध में वित्त एवं लेखाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

    साथियों नमस्कार ...
    आज वित्त एवं लेखाधिकारी महोदय श्री दिलीप कुमार सिंह जी से तय समयानुसार राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के प्रतिनिधिमंडल ने मिलकर ज्ञापन सौपा....
    👉🏿 ज्ञापन की प्रथम मांग पर महोदय द्वारा बताया गया कि शिक्षकों को फार्म 16 का पार्ट B लगभग 1 सप्ताह में वित्त एवं लेखा विभाग द्वारा खण्ड शिक्षा अधिकारियों के माध्यम से मिल जाएगा
    👉🏿 विभिन्न ब्लॉकों में फॉर्म 16 जिनको अभी तक नहीं मिला है जल्द ही NPRCC को लिखित में नोट करा दें, जिससे NPRCC के माध्यम से शिक्षकों की लिस्ट लेखा विभाग को सौंपी जाएगी उपरोक्त लिस्ट के अनुसार फार्म 16    NPRCC को उपलब्ध करा दिए जाएंगे,
    शिक्षक NPRCC से फार्म 16 प्राप्त कर लेंगे ....
    👉🏿 26 AS की त्रुटियां अधिकतर सही हो चुकी हैं फिर भी यदि त्रुटि हो तो लेखा ऑफिस में एप्लीकेशन रिसीव करा दे
    👉🏿 शिक्षकों का बकाया एरियर जुलाई अंतिम या अगस्त के प्रथम सप्ताह में भुगतान होने की संभावना है
    ज्ञापन देते समय श्री दुर्गेश पांडे, श्री उमेश वर्मा, श्रीमती अर्चना भास्कर, सुश्री पूजा  अवस्थी, सुश्री बीना रावत, श्रीमती पूजा मालवीय, श्री नरेंद्र सिंह वर्मा, श्री संदीप गौतम, डॉ शिवबरन पाल, श्री अमित शुक्ला, श्री बलवीर यादव, श्री अतेंद्र प्रताप सिंह, श्री मोहन कश्यप, श्री श्याम मोहन व कुलदीप कुमार जी उपस्थित रहे......
    -
    *सन्तोष मौर्य*
    जिलाध्यक्ष 
    *राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ*
    जनपद लखीमपुर-खीरी
    99 1888 1889