Income tax में hra कैसे घटाएँ ! आयकर में मकान किराया भत्ता घटाने का तरीका जाने - Primary Ka Master || UPTET, Basic Shiksha News, TET, UPTET News
  • primary ka master

    PRIMARY KA MASTER- UPTET, BASIC SHIKSHA NEWS, UPTET NEWS LATEST NEWS


    Friday, 8 March 2019

    Income tax में hra कैसे घटाएँ ! आयकर में मकान किराया भत्ता घटाने का तरीका जाने

    INCOME TAX : मकान किराया भत्ते (HRA) के सम्बन्ध में अक्सर भ्रम की स्थिति रहती है कि इसकी छूट आयकर में मिलेगी या नहीं यदि हाँ तो कितनी? उदाहरण सहित समझिये,आयकर आगणन -

    मकान किराया भत्ते (HRA) के सम्बन्ध में अक्सर भ्रम की स्थिति रहती है कि इसकी छूट आयकर में मिलेगी या नहीं यदि हाँ तो कितनी? किराये की रसीद प्रस्तुत करनी होगी या नहीं? क्या इसके साथ मकान स्वामी के PAN no. को भी प्रस्तुत करना होगा? इन बिंदुओं का क्रमशः स्पष्टीकरण --

    किसको मिलेगी HRA की कटौती? ----
            यदि कोई व्यक्ति किराये के मकान मेँ रहता है तो उसे HRA की कटौती मिलेगी।
    किस सीमा तक मिलेगी HRA की कटौती?
     
            निम्न तीन बिंदुओं में से जो राशि सबसे कम होगी वह आयकर मुक्त (income tax free) होगी ----
    1- HRA की वास्तविक प्राप्त राशि
    2- भुगतान किराया - वेतन का 10%
    3- वेतन का 40%
          यहाँ वेतन से आशय --- basic salary + D.A. से है।
           उपर्युक्त सभी गणना वार्षिक आधार पर होगी।
    किराये की रसीद  व मकान स्वामी के PAN no. को उपलब्ध कराना कब आवश्यक? ----
    1- यदि प्राप्त HRA की राशि 3000 ₹ से कम व् आपके द्वारा भुगतान की गयी किराए की राशि 8333₹ मासिक से कम है तो न किराये की रसीद और न मकान स्वामी के पैन नं को उपलब्ध करना आवश्यक होता है।( सभी अध्यापक बन्धु सामान्यतः इसी श्रेणी में आते है।)
    2- यदि HRA की प्राप्त राशि 3000 ₹ या इससे ज्यादा और भुगतान किये किराये की राशि 8333₹ से कम है तो सिर्फ किराये की रसीद(revenue स्टाम्प सहित) प्रस्तुत करनी होगी पैन नं. नहीं ।
    3- यदि प्राप्त HRA और भुगतान किराए की राशि दोनोँ ही क्रमशः 3000₹ व् 8333₹ से अधिक है तो किराये की रसीद व मकान स्वामी के PAN no. दोनोँ को ही उपलब्ध करना होगा।